जब पिता को जिंदा रखने के लिए अपना दूध पिलाने लगी

beti

इंडिया व्यू ब्यूरो

यह एक तस्वीर है। जिसे देखकर आप सभी के मन में तरह तरह के ख्याल आते होंगे, लेकिन इसमें एक मार्मिक दास्तां छुपी हुई है। इसकी सच्चाई जानकर आपकी आखें नम हो जाएंगी। एक महिला का जीवन में क्या महत्व हो सकता है। महिला में ममता कितनी होती है। इसकी एक बानगी है यह तस्वीर। यह फोटो सोशल मीडिया पर वायरल भी हो रहा है।

दरअसल, सोशल मीडिया पर वायरल कहानी के मुताबकि ये फोटो यूरोप के एक पेंटर “मुरीलो” ने बनाया है! यूरोप के एक देश मे एक आदमी को भूखे मरने की सजा मिली,उसे एक जेल मे बंद किया गया, सजा ऐसी थी की जब तक उसकी मौत नही हो जाती तब तक उसे भूखा रखा जाय। उसकी बेटी ने अपने पिता से मिलने के लिये सरकार से अनुरोध किया कि वह हर रोज अपने पिता से मिलेगी। उसे मिलने की इजाजत दे दी गयी, मिलने से पहले उसकी तलाशी ली जाती कि वह कोई खाने का सामान न ले जा सके। उसे अपने पिता की हालत देखी नही गयी। वो अपने पिता को जिंदा रखने के लिये अपना दूध पिलाने लगी। जब कई दिन बीत जाने पर भी वो आदमी नही मरा तो पहरेदारों को शक हो गया और उन्होंने उस लड़की को अपने पिता को अपना दुध पिलाते पकड़ लिया, उस पर मुकदमा चला, और सरकार ने कानून से हटकर भावनात्मक फैसला सुनाया, उन दोनो को रिहा कर दिया गया। पेंटिंग युरोप की सबसे महँगी पेंटिंग है।

नारी कोई भी रूप में हो चाहे माँ हो चाहे पत्नी हो चाहे बहन हो चाहे बेटी…हर रूप में वात्सल्य त्याग और ममता की मूरत है। नारी की ममता को इंडिया व्यू भी सलाम करता है।

One Response to जब पिता को जिंदा रखने के लिए अपना दूध पिलाने लगी

  1. Dr Dhiresh Kulshrestha Associate Professor Economics says:

    Very good moral story with ethics and humanity…I can say

    “Beti hai to kal hai”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *