हिमाचल प्रदेश जीतने के लिए बीजेपी ने कांगड़ा में भरी हुंकार

BJP RAILY

इंडिया व्यू के लिए वीरेंद्र सिंह की रिपोर्ट।

कांगड़ा (हिमाचल प्रदेश)। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आज नगर पालिका ग्राउंड, कांगड़ा (हिमाचल प्रदेश) में युवा हुंकार रैली को संबोधित किया और युवाओं से राज्य के विकास के लिए हिमाचल प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की दो-तिहाई बहुमत की सरकार बनाने का आह्वान किया। उन्होंने हिमाचल की मौजूदा कांग्रेस सरकार को भ्रष्टाचार का प्रतीक बताते हुए राज्य के विकास के प्रति उसकी उदासीनता व अकर्मण्यता को लेकर वीरभद्र सरकार पर करारा प्रहार किया।

श्री शाह ने कहा कि युवाओं के जोश और उत्साह से यह साफ़ है कि इस बार के विधान सभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी 50 से अधिक सीटें जीतकर हिमाचल प्रदेश में तीन-चौथाई बहुमत से सरकार बनायेगी। उन्होंने कहा कि मुझे यह कहने में कोई संकोच नहीं है कि आजादी के बाद से इतनी बदनामी हिमाचल प्रदेश की कभी नहीं हुई जितनी कांग्रेस की वीरभद्र सिंह सरकार के दौरान इन पांच साल में हुई है। उन्होंने कहा कि लोग मुख्यमंत्रियों को उनके काम से जानते हैं, शांता कुमार जी को लोग उन्हें पानी वाले मुख्यमंत्री के नाम से जानते हैं, प्रेम कुमार धूमल जी को प्रदेश की जनता सड़क वाले मुख्यमंत्री के नाम से जानती है लेकिन वीरभद्र सिंह जी को सब भ्रष्टाचार वाले मुख्यमंत्री के रूप में जानते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र भाई मोदी जी ने देश में डेवलपमेंट और परफॉरमेंस की राजनीति की शुरुआत की, शांता कुमार जी ने हिमाचल प्रदेश में प्रमाणिक राजनीति की शुरुआत की, धूमल जी ने सड़कों का नेटवर्क हिमाचल प्रदेश के विकास की शुरुआत की लेकिन वीरभद्र सिंह ने इतने सारे भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद भी इस्तीफा न देने की एक नई परंपरा की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि किसी व्यक्ति पर भ्रष्टाचार का कोई आरोप लगता है तो उसे शर्मिंदगी होती है लेकिन वीरभद्र सिंह जी एक ऐसे मुख्यमंत्री हैं जो भ्रष्टाचार के आरोपों को मेडल की तरह सीने से चिपकाकर गर्व के साथ चलते हैं। उन्होंने कहा कि हिमाचल की जनता यह समझ चुकी है कि अब देवभूमि में परिवर्तन का समय आ गया है और इसलिए भारतीय जनता पार्टी ने ‘हिसाब मांगे हिमाचल’ अभियान की शुरुआत की है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने ‘हिसाब मांगे हिमाचल’ अभियान से जुड़ने के लिए एक नंबर जारी किया है, आप 7574068068 पर मिस्ड कॉल देकर हिमाचल प्रदेश के परिवर्तन के अभियान से जुड़ सकते हैं।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस को हटाकर भाजपा की सरकार लाने के लिए हमें परिवर्तन नहीं लाना है, किसी को मंत्री अथवा मुख्यमंत्री बनाने के लिए परिवर्तन नहीं करना है बल्कि प्रदेश की व्यवस्था को बदलने के लिए, राज्य में विकास की बयार लाने के लिए परिवर्तन करना है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के विकास के लिए डबल इंजन वाले ग्रोथ की जरूरत है, आपने केंद्र में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र भाई मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाकर एक इंजन तो लगा दिया है, अब हिमाचल प्रदेश में भी भाजपा की सरकार बनाकर दूसरा इंजन भी लगा दें, प्रदेश का विकास डबल इंजन की स्पीड से आगे बढ़ेगा।

श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस सरकार में भ्रष्टाचार, बलात्कार, गुंडागर्दी और माफियागिरी ने देवभूमि हिमाचल प्रदेश को बर्बाद कर के रख दिया है। उन्होंने कहा कि केंद्र में मोदी सरकार आने के बाद से देश के सभी राज्यों के राजस्व में इजाफा हुआ लेकिन हिमाचल की कांग्रेस सरकार पूरे भारत में एकमात्र ऐसी सरकार है जिसके राजस्व में कमी आई है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के राजस्व में लगभग 4,200 करोड़ रुपये की कमी आई है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के युवाओं पर राज्य की वीरभद्र सरकार ने लगभग 46,000 करोड़ रुपये का आर्थिक बोझ डालने का काम किया है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने इतने सारे हाइवे के प्रोजेक्ट्स हिमाचल को दिए हैं लेकिन वीरभद्र सरकार हाइवेज का सर्वे कराने में भी असमर्थ रही, उसके लिए भी केंद्र की भाजपा सरकार ने 268 करोड़ रुपये की राशि अलग से आवंटित की है। उन्होंने कहा कि वीरभद्र सरकार हिमाचल प्रदेश का विकास नहीं कर सकती, यदि हिमाचल प्रदेश का विकास करना है तो राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनानी पड़ेगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने हिमाचल के विकास के लिए कई काम किये हैं चाहे सौर उजरा के प्रोजेक्ट्स हो, हाइड्रो पॉवर के प्रोजेक्ट्स हों या फिर 3900 किलोमीटर का हाइवे प्रोजेक्ट्स। उन्होंने कहा कि अतिवृष्टि और ओलावृष्टि से पीड़ित किसानों की भी हरसंभव सहायता करने का काम मोदी सरकार ने किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार केन्द्रीय योजनाओं में हिमाचल प्रदेश को 90% आर्थिक सहायता दे रही है, इसके बावजूद हिमाचल में विकास की रफ़्तार सुस्त है।

श्री शाह ने कहा कि हिमाचल की जनता मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह जी से हिसाब मांगें कि जब केंद्र में 10 साल तक यूपीए की सोनिया-मनमोहन सरकार थी, तब हिमाचल प्रदेश को विकास के लिए कांग्रेस सरकार से क्या मिला? उन्होंने कहा कि 13वें वित्त आयोग में जहां सेन्ट्रल टैक्स में हिमाचल प्रदेश की हिस्सेदारी लगभग 11,000 करोड़ रुपये थी, वहीं मोदी सरकार के 14वें वित्त आयोग में हिस्सेदारी को बढ़ा कर 28,000 करोड़ रुपये कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की यूपीए सरकार के समय 13वें वित्त आयोग में अनुदान सहायता के रूप में हिमाचल को 10,000 करोड़ रुपये मिलते थे, जिसे 14वें वित्त आयोग में मोदी सरकार ने चार गुना बढ़ा कर 43,000 करोड़ रुपये कर दिया। उन्होंने कहा कि लोकल बॉडीज ग्रांट को भी 642 करोड़ रुपये से बढ़ा कर 2,012 करोड़ रुपये दिया गया। उन्होंने कहा कि कुल मिलाकर देखें तो शेयर इन सेन्ट्रल टैक्स, अनुदान सहायता, लोकल बॉडीज ग्रांट, डिजास्टर रिलीफ फंड आदि योजनाओं में 13वें वित्त आयोग में कांग्रेस की सोनिया-मनमोहन सरकार ने 44,235 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की, वहीं 14वें वित्त आयोग में मोदी सरकार ने हिमाचल प्रदेश को 1,15,846 करोड़ रुपये आवंटित किया है, जो यूपीए सरकार की तुलना में इन सेक्टरों में लगभग 71,000 करोड़ रुपये अधिक है। हिमाचल प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि हमने तो हिमाचल की जनता को तीन साल का हिसाब दे दिया, अब वीरभद्र सिंह को हिमाचल की जनता को जवाब देना चाहिए कि यह 71,000 करोड़ रुपये कहाँ गए?

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने देश के गाँव, गरीब, किसान, दलित, पीड़ित, शोषित, आदिवासी, युवा एवं महिलाओं के कल्याण के लिए 106 योजनाओं की शुरुआत की लेकिन हिमाचल की वीरभद्र सरकार इन योजनाओं को नीचे तक पहुँचने नहीं देती। उन्होंने कहा कि हिमाचल की कांग्रेस सरकार को यह डर है कि यदि ये योजनायें नीचे तक पहुँची तो नरेन्द्र मोदी सरकार लोकप्रिय हो जायेगी। उन्होंने कहा कि यदि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की लोक-कल्याणकारी योजनाओं को राज्य की जनता तक पहुंचानी है तो राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनानी पड़ेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *