आईआईटी के पूर्व छात्रों ने नौकरी छोड़कर बनाई राजनीतिक पार्टी

bap

इंडिया व्यू ब्यूरो।

नई दिल्ली। इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (आईआईटी) के 50 पूर्व छात्रों ने नौकरी छोड़कर राजनीतिक दल बनाया है। इस दल का नाम बहुजन आजाद पार्टी रखा गया है। अब चुनाव आयोग से राजनीतिक दल के रुप में मंजूरी का इंतजार है। बताया जा रहा इस दल में अलग-अलग आईआईटी के पूर्व छात्र हैं। और सभी लोगों ने अपनी नौकरियां छोड़ दी हैं।

आईआईटी दिल्ली से 2015 पढ़ाई पूरी करने वाले नवीन कुमार का कहना है कि पार्टी सदस्य अभी 2019 लोकसभा चुनाव नहीं लड़ना चाहते। हम 2020 में बिहार विधानसभा चुनाव से शुरूआत करेंगे और फिर अगले लोकसभा चुनाव को लक्ष्य बनाएंगे।

 25 से 40 साल के पढ़े-लिखे युवा ही उनके उम्मीदवार होंगे। उनकी पार्टी ओबीसी, एससी, एसटी और महिलाओं को अपना उम्मीदवार बनाएगी। जिन पर आपराधिक मामला दर्ज होगा,  उन्हें टिकट नहीं मिलेगा।

इस पार्टी ने सोशल मीडिया पर अपना अभियान शुरू कर दिया है। सोशल मीडिया पर जारी पोस्टर में भीमराव अंबेडकर, सुभाष चंद्र बोस और एपीजे अब्दुल कलाम की तस्वीरें भी लगाई गई हैं। इस पार्टी एक सदस्य का कहना है कि एक बार हमारी पार्टी का रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाए, फिर हम छोटी-छोटी यूनिट्स बनाकर टारगेट ग्रुप्स के लिए जमीनी स्तर पर काम करना शुरू कर देंगे। हम अभी खुद को किसी भी राजनीतिक पार्टी या विचारधारा के विरोधी के रूप में पेश नहीं करना चाहते।

उन्होंने कहा कि 25 से 40 साल के पढ़े-लिखे युवा ही उनके उम्मीदवार होंगे। उनकी पार्टी ओबीसी, एससी, एसटी और महिलाओं को अपना उम्मीदवार बनाएगी। जिन पर आपराधिक मामला दर्ज होगा,  उन्हें टिकट नहीं मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *