गोपालगंज में लॉकडाउन की उड रही है धज्जियां, सोशल मीडिया पर लोगों ने निकाली भड़ास

gopalganj

इंडिया व्यू ब्यूरो।

गोपालगंज। कोरोना की त्रासदी को देखते हुए गोपालगंज में लॉकडाउन किया गया है। लेकिन, शहर में लॉकडाउन की धज्जियां उड़ रही हैं। बेखौफ होकर लोग शहर में घूम रहे हैं। आम जनता को न तो प्रशासन का डर है और न ही कोरोना जैसी खतरनाक महामारी का।

शहर के मौनिया चौक, थाना चौक, पोस्ट ऑफिस चौक, अंबेडकर चौक आदि जगहों पर भीड देखी जा सकती है। कहने के लिए कुछ पुलिस के जवान मिल जाएंगे। मगर धरपकड़ के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति देखी जा सकती है।

शहर के सामाजिक कार्यकर्ता एवं व्यवसायी नीरज देवा अपने फेसबुक पर शहर के थाना रोड की ताजा तस्वीर साझा करते हुए लिखते हैं कि “कंपलीट लॉकडाउन, तो फिर ये क्या?”

गोपालगंज मुख्यालय में इस लॉकडाउन का सोशल मीडिया पर मजाक उड़ाया जा रहा है। शहर के सामाजिक कार्यकर्ता एवं व्यवसायी नीरज देवा अपने फेसबुक पर शहर के थाना रोड की ताजा तस्वीर साझा करते हुए लिखते हैं कि “कंपलीट लॉकडाउन, तो फिर ये क्या?”

सामाजिक कार्यकर्ता एवं स्वर्ण व्यवसायी ई. बिमल कुमार लिखते हैं “कागज पर खानापूर्ति है”। इसी तरह अनिश श्रीवास्तव लिखते हैं “कुछ नहीं हो सकता है। पुलिस भी कुछ नहीं कर सकती है” मनीष सिंह कहते हैं कि “अभी बहुत लोगो को मजाक लग रहा है कोरोना”

नीरज देवा के वाल पर ही निशांत गौतम लिखते हैं। “भइया लोग कोरोना से ना, पुलिस के डंटा से डेराइल रहल ह” वहीं मोहित अशोक गुप्ता लिखते हैं कागज वाला लॉकडाउन है।

दरअसल, कोरोना वायरस के तेजी फैलाव एवं जिले में लगातार बढ़ रहे कोरोना मरीजों की संख्या को ध्यान में रखकर जिला प्रशासन ने गोपालगंज सहित जिले के कई नगर परिषद एवं नगर पंचायत को लॉकडाउन किया गया है। सोमवार को कोरोना के 22 नए केस मिले हैं। और जिले में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 509 हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *