भावांतर भुगतान योजना का लाभ रबी फसलों को भी दिये जाने की मांग

The Chief Minister of Madhya Pradesh, Shri Shivraj Singh Chouhan meeting the Union Minister for Finance and Corporate Affairs, Shri Arun Jaitley, in New Delhi on March 22, 2018.
इंडिया व्यू ब्यूरो।
नई दिल्ली। मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान केन्द्रीय वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली से उनके कार्यालय में मुलाकात कर मध्यप्रदेश में किसानों को उनके उत्पाद का उचित दाम देने के लिए चलायी जा रही भावांतर भुगतान योजना के बारे में विस्तार से चर्चा की। लगभग आधे घंटे तक चली मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में बम्पर उत्पादन के कारण उत्पादों की कीमत नीचे गिर गयी हैं जिससे किसानों को उनकी फसल का उचित दाम नहीं मिल पा रहा है।
मध्यप्रदेश में किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने शुरुआत में खरीफ फसलों के लिए भावांतर भुगतान योजना (बाजार भाव और न्यूनतम समर्थन मूल्य का अंतर) शुरू की गयी थी। इस योजना के माध्यम से किसानों को यह लाभ सीधे उनके खाते में जमा करा दिया जाता है। श्री चैहान ने केन्द्रीय मंत्री से मांग की कि भावांतर भुगतान योजना का लाभ रबी की फसलों पर भी दिया जाय।
मुख्यमंत्री श्री चैहान ने आग्रह किया कि भावांतर भुगतान योजना का केन्द्रांश (50 प्रतिशत) की राशि अभी तक केन्द्र द्वारा जारी नहीं की गई है, को शीघ्र जारी किया जाय।
श्री चैहान ने बताया कि प्रदेश में गेहूं, चना, मसूर, सरसों के बाजार भाव समर्थन मूल्य से काफी नीचे गिर गये हैं। इससे किसानों को काफी नुकसान उठाना पड़ा है। मध्यप्रदेश सरकार ने किसानों के नुकसान की भरपाई भावांतर भुगतान योजना के द्वारा की गई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *