दिल्ली नगर नगम चुनाव मेें बीजेपी के जीत की है ये बड़ी वजह

bjp

इंडिया व्यू के लिए दिल्ली से ब्यूरो रिपोर्ट।

दिल्ली नगर निगम चुनाव में भाजपा के जीत में मोदी लहर का जादू रहा है। रहा है। वहीं सभी सीटों पर नए उम्मीदवार को उतार कर बीजेपी ने 10 साल के विरोध को एक झटके में खत्म कर दिया था। जीत की  एक बड़ी वजह पूर्वांचली वोट का जुड़ना भी बताया जा रहा है। आइए जानते जीत की कुछ वजहें।

  1. नरेंद्र मोदी लहर-बीजेपी ने इस चुनाव में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का चेहरा आगे रखकर लड़ा। हालांकि निगम चुनाव स्थानीय मुद्दों और स्थानीय नेताओं के भरोसे लड़ा जाता है। लेकिन, मोदी लहर ने इस चुनाव में भी जीत दर्ज कराई है।
  2. यूपी चुनाव परिणाम-उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड विधानसभा में मिली जीत निगम चुनाव में पार्टी की जीत हासिल कराने में मददगार साबित हुई है। अभी फिलहाल में राजौरी गार्डन विधानसभा उपचुनाव में मिली बड़ी जीत ने उस लहर को और भी शक्ति दी।
  3.  केजरीवाल में विश्वास कम-राजधानी के लोगों ने अरविंद केजरीवाल को दिल्ली का सरताज बना दिया था। वहीं इस बार निगम चुनाव में उनको दरकिनार कर दिया। जिस आशा से लोगों ने आम आदमी पार्टी पर विश्वास किया था। लोगों को कई कारणों से विश्वास कम हुआ है।
  4. नए चेहरों को टिकट देना- बीजेपी ने अपने सभी पार्षदों के टिकट काट दी। और नए चेहरे मैदान में उतार एक झटके में विरोध को खत्म कर दिया था। इससे बीजेपी पार्षदों के खिलाफ चल रही दस सालों की सत्ता विरोधी लहर को काटने के लिए लिया गया था
  5. कांग्रेस की कलह- नगर निगम के चुनाव में कांग्रेस अपने खोये हुए जनाधार में से कुछ वापस पाने में सफल हो गई है। लेकिन अजय माकन के फैसलों से कुछ लोग खुश नहीं रहे। ये भी बहुमत कम लाने में एक कारण रहा।
  6. पूर्वांचल वोट- जीत में सबसे बड़ी वजह पूर्वांचल वोट को गोलबंद होना भी बताया जा रहा है। वैसे दिल्ली की पंजाबी बहुल राजनीति होती है। लेकिन, बीजेपी ने भोजपुरी गायक एवं सांसद मनोज तिवारी को भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष बनाकर पार्टी ने बड़ा दांव खेला। लेकिन, श्री तिवारी पूर्वांचली वोटरों कको जुटाने में सफल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *